Saturday, May 18, 2024
HomeTourist Placesजहाज मंदिर

जहाज मंदिर

जहाज मंदिर का निर्माण कराने के पीछे यह रही साेच : मुंबई में चातुर्मास के दौरान उन्होंने तारण-तीरण जहाज का प्रसंग सुना।

यानी, जहाज सबको तार कर पानी से बाहर लाता है। तभी उनके मन में जहाज के आकार का मंदिर बनाने का विचार आया

जिनकांति सूरी सागर मसा की स्मृति में उनके शिष्य मणिप्रभ सागर मसा ने बनवाया मांडवला का यह जैन मंदिर

5 साल 8 माह में बना मांडवला का जहाज मंदिर, गुरुशिष्य के रिश्ते का है साक्षी


ये है जालोर से करीब 18 किलोमीटर दूर मांडवला स्थित जैन समाज का जहाज मंदिर। इसकी खासियत यह है कि देश का यह इकलौता मंदिर है जो जहाज की अाकृति में बना है। संगमरमर के जहाज में बने इस मंदिर को कांच, हीरापन्ना, मोती और सोने से बनाया गया है। इसीलिए इसकी भव्यता देखते ही बनती है। देश ही नहीं, विदेश से भी पर्यटक इसके दर्शनार्थ आते हैं। इस मंदिर की स्थापना के पीछे की कहानी भी गुरुशिष्य के रिश्ते की महत्वता को दर्शाती है। मंदिर की देखरेख के लिए जिनकांति सागर सूरीश्वर महाराज स्मारक ट्रस्ट है। जिनकांति सूरी सागर का देहावसान 4 दिसंबर 1985 को हुआ था। उनके शिष्य मणिप्रभ सागर मसा उनकी स्मृति में स्मारक बनवाना चाहते थे। मुंबई में चातुर्मास के दौरान उन्होंने तारणतीरण जहाज सुना। जैसे जहाज सबको तार कर पानी से बाहर लाता है। ऐसे ही जहाज के आकार का मंदिर बनाने का विचार आया और 9 मई 1993 को मांडवला में मंदिर का शिलान्यास किया। 30 जनवरी 1999 को जहाज के आकार में मंदिर बन गया। ट्रस्ट के महामंत्री डॉ.यूसी जैन ने बताया कि यहां 24 तीर्थंकर का | मदिर है। |ों से जैन धर्म के सभी तीर्थंकरों की प्रतिमाएंं बनवाई गई है, जो हीरापन्ना, मोती, जवाहरात, माणक आदि से बनी हैं।

जालोर. शहर से 18 किमी. दूर मांडवला कस्बे में बना जहाज मंदिर।

नक्काशी के लिए सिराेही के साेमपुरा, तो कांच की कलाकारी के लिए किशनगढ़ से कारीगर आए
ट्रस्ट के प्रबंधक नरेश जैन बताया कि मुंबई से ही नक्शे के लिए इंजीनियर आए। इसके बाद निर्माण के लिए कुशल कारीगरों की जरूरत पड़ी। कांच के काम के लिए किशनगढ़ से कारीगरों को बुलाया गया, जबकि रंगरोगन भी यहां के कारीगरों ने किया। मार्बल का काम करने के लिए सिराेही के सोमपुरा आए। बाद में मंदिर में सोने की नक्काशी भी कराई गई

जहाज मंदिर जैन तीर्थ राजस्थान के जालोर जिले से लगभग 20 किलोमीटर की दुरी पर माण्डवला में है । यह मंदिर जहाजनुमा आकृति में बना हुआ है । इस मंदिर के अन्दर पूरा सजावट का कार्य काँच के टुकड़ो से किया गया है । अन्दर से देखने पर यह मंदिर बड़ा ही अदभुत लगता है । यहां पर भी यात्रियों के लिए भोजन की और ठहरने की सुविधा है । जैन स्थान होने से रात्रि भोज निषेध है ।

इस जहाज मंदिर का निर्माण 1993 में हुआ है और अधिक जानकारी के लिए आप इनकी website देख सकते है । यहां पर आपको बहुत सी जानकारी मिल जाएगी ।

prakash2 जहाज मंदिर jalore news
जहाज मंदिर

मंदिर के बारे में अधिक जानकारी के लिए इसे पढ़ सकते है –

जहाज मंदिर
जहाज मंदिर
1111111 जहाज मंदिर jalore news
जहाज मंदिर jalore news

सोने की प्याऊपानी की तृष्णा को शान्त करने के लिए, शीतल पानी की प्याऊ

जहाज मंदिर
जहाज मंदिर jalore news

मंदिर के अन्दर के कुछ दृश्य आपके लिए । ये वही चित्र है, जो वहां खीचने की आज्ञा है ।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

latest news

आज 15 राज्यों में बारिश का अलर्ट

मानसून धीरे-धीरे पूर्वी और मध्य भारत के राज्यों को भिगो रहा है। यूपी, बिहार, एमपी, राजस्थान, पश्चिम बंगाल समेत देश के 15 राज्यों में...

मानसून :अगस्त खत्म होने को है सामान्य से 33% कम बारिश

अगस्त 120 साल में सबसे सूखा: सामान्य से 33% कम बारिश; सितंबर में 10 दिन तक आखिरी मानसून की बारिश होने की संभावना है अगस्त खत्म होने...

Gold Price Today अपडेटेड: 31 अगस्त 2023

Gold Price Today अपडेटेड: 31 अगस्त 2023 भारत में आज सोने की कीमतें 22k के लिए ₹ 5,431 प्रति ग्राम हैं, जबकि 24k के...

जिले में नाबालिग बच्चियों से दुराचार और उनको गर्भवती बनाने के मामले लगातार बढ़ रहे

पाली जिले में नाबालिग बच्चियों से दुराचार और उनको गर्भवती बनाने के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। 15 साल की अनाथ लड़की से एक...

सांचौर का देवासी हत्याकांड • जेल में प्रकाश की साज़िश, मुकेश ने विष्णु से जुटाए शूटर, कई आरोपी हैं इसमें शामिल

25 लाख रुपए देकर हरियाणा से लाए थे शूटर, रैकी करने वाला तगसिंह गिरफ्तार, मुकेश अभी भी फरार सांचौर लक्ष्मण देवासी हत्याकांड मामले में पुलिस...

पत्नी के चरित्र पर शक बना हत्या का कारण दोनों आरोपी भाई गिरफ्तार

 पति व चचेरे भाई ने नींद की गोलियां खिलाई, तकिए से मुंह दबा की थी हत्या जालोर 05 अगस्त को बागोड़ा के धुंबड़िया गांव में...

Trending

​​​​​​ जिले में 24 घंटे से बारिश का दौर जारी

जालोर जिले में 24 घंटे से बारिश का दौर जारी है। कभी तेज तो कभी रिमझिम बारिश होने से शहर में कई कॉलोनियों में...

‘आदिपुरुष’ पर हाई कोर्ट ने कहा, फिल्म को पास करना गलती: कोर्ट ने कहा, झूठ के साथ कुरान पर डॉक्यूमेंट्री बनाएं, फिर देखें...

आदिपुरुष इलाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच ने बुधवार को लगातार तीसरे दिन फिल्म 'आदिपुरुष' के आपत्तिजनक डायलॉग्स पर सुनवाई की. कोर्ट ने कहा कि...
error: Content is protected !!